भुजंगासन के फायदे (Benefits of Bhujangasana): जाने अनेकों लाभ

भुजंगासन के 16 फायदे – 16 Different Benefits of Bhujangasana Yoga in Hindi

Benefits of Bhujangasana in Hindi: भुजंगासन, जिसकी मुद्रा कोबरा के रूप की होती है, भुजंगासन सुर्य नमस्कार मानसिक, शारीर और आत्मा के लिए बेहद फ़ायदे प्रदान करता है. भुजंगासन के अनेकों फ़ायदे है जिनका लाभ हम इस आसन को करके ले सकते है भुजंगासन योग के फ़ायदे हमने इस लेख में प्रकाशित किए है जिन्हें पढ़ आप चकित रह जायेंगे भुजंगासन के नियमित अभ्यास से आप भी इन फायदों का लाभ प्राप्त कर सकते है आइए पढ़ते है भुजंगासन के मुख्य फायदें.

कमर स्वास्थ्य के लिए:

भुजंगासन हमारी कमर की गतिविधियों को सुधरने में मदद करता है और मजबूती प्रदान करता है। इससे पीठ से मष्तिष्क तक खिचांव जाता है, जिससे कमर का दर्द और थकान कम होती है और सीधी और स्वस्थ पीठ का विकास होता है।

रीढ़ की हड्डी (मेरुदण्ड) के लिए फ़ायदेमंद:

भुजंगासन रीढ़ की हड्डी के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है। इससे रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है और रीढ़ की हड्डी से जुड़ी समस्याओ में मदद मिलती है.

शारीरिक और मानसिक बाल का विकास के लिए:

भुजंगासना करने से शारीरिक और मानसिक बाल दोनो तरह से विकास होता है। यह आसन शरीर की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है और हमारी मानसिक स्थिति को शांत करता है।

शारीरिक ताकत के लिए:

भुजंगासन में हमारे शरीर के कई मसल्स जैसी कूबड़ की मांसपेशियां, स्किलां मसल्स, और तलवे के मसल्स का इस्तेमाल होता है। इससे शरीर की ताकत और शक्ति बढ़ती है।

मानसिक शांति और ध्यान बढाने के लिए:

भुजंगासन क्रिया को नियमित करने से हमारे दिमाग को शांति मिलती है। इस आसन को करने से ध्यान की स्थिति में सुधार होता है एवं शरीर और मन को शांत और संतुलित बनाने में मदद मिलती है।

पेट की समस्या को नियंत्रण करने के लिए:

भुजंगासना पेट के कोशिकों को सक्रिय बनाता है और उनको स्वस्थ रखने में सहायता प्रदान करता है। यह आसन पेट की समस्या जैसे पेट दर्द, पेट में गैस, और पेट की चर्बी को कम करने में मदद करता है।

गर्भस्थिति में लाभदायक:

गर्भस्थिति के दौरान भी भुजंगासन किया जा सकता है। इससे पेट की मासपेशियां मजबूत होती है और गर्भशय की सही स्थिति बनाने में मदद मिलती है। इससे प्रसव की प्रक्रिया को भी आसान बनाया जा सकता है।

उपयोगी लिंक्स: वज्रासन करने के फायदें | सूर्य नमस्कार के फायदे हिंदी में | योग के फायदे हिंदी में

चक्कर आने की समस्या को कम करने के लिए:

भुजंगासना मस्तिष्क की प्रकृति को सुधरता है और सिर घूमना या चक्कर आने की समस्या से राहत प्रदान करता है।

दिल मजबूरी के लिए:

भुजंगासन करने से ह्रदय स्वस्थ रहता है। इस आसन को नियमित करने से दिल की धड़कन बढ़ती है और रक्त प्रवाह तेज होता है। इस आसन से हृदय रोग जैसे हृदय का दौरा, हाई ब्लड प्रेशर, और कोलेस्ट्रॉल की समस्या को नियंत्रित किया जा सकता है।

पचन तंत्र सुधार के लिए:

भुजंगासना हमारे पचन तंत्र को बेहतर बनाने में सहयोगी होता है। इस आसन को नियमित करने से निजी बिमारियों की समस्या का समाधान होता है जैसे कब्ज़, गैस, और एसिडिटी आदि।

मधुमेह नियंत्रण के लिए:

भुजंगासन के प्रतिदिन अभ्यास किए जाने पर, इस आसन से पैंक्रियाज को सक्रिय किया जा सकता है जिससे मधुमेह या डायबिटीज की समस्या को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

महिलाओं के लिए लाभदायक:

भुजंगासना क्रिया मासिक धर्म संबंधित समस्याओं जैसे पीरियड्स का दर्द, असमान्य मासिक धर्म की समस्या, और गर्भावस्था के दर्द को कम करने में मदद करता है।

तनाव मुक्त के लिए:

भुजंगासन क्रिया से हमारे शरीर में आनंद हार्मोन या एंडोर्फिन का उत्पादन होता है। इससे मन की स्थिति में सुधार होता है और तनाव कम होता है।

अस्थमा और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ने के लिए:

भुजंगासन नियमित व्यायाम से अस्थमा या स्वास की बीमारी को नियंत्रित किया जा सकता है। इससे साँसों की प्राणवायु पर भी अच्छा प्रभाव होता है और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

स्वस्थ आंखों के लिए:

भुजंगासन करने से आंखों की रोशनी बढ़ने में मदद मिलती है और आंखों के लिए स्वस्थ प्रदान करता है।

अस्थमा के लिए उपयोगी:

भुजंगासन के नियमित अभ्यास से अस्थमा की समस्या से आराम मिल सकता है। इससे सांस की प्रकृति को नियत्रित करने में मदद मिलती है और हमारी सांस लेने की क्षमता बढ़ती है।

उपयोगी बिंदु:

भुजंगासन के फायदे – निष्कर्ष:

भुजंगासना व्यायाम के ये कुछ फ़ायदे हमने ऊपर प्रकाशित किए, भुजंगासना को यदि आप प्रतिदिन करते है और आप अपने शरीर को कुछ विशेष देखने को मिलता है साथ ही इस भुजंगासना क्रिया से कई प्रकार की बिमारियों से छूटकारा मिल सकता है और हमेशा एक बात का ध्यान रखें की भुजंगासना या अन्य किसी आसन को करने से पहले किसी व्यायाम प्रशिक्षक की सलाह जरुर लें.

Leave a Comment